पुर्तगाल के जंगलों में आग से 57 की मौत, कार के अंदर जिंदा जले लोग -

LiveUjjainNews 22:55:41,18-Jun-2017 विदेश
img

मध्य पुर्तगाल के जंगलों में लगी आग से 57 लोगों की मौत हो गई, जबकि 59 अन्य घायल हो गए। मारे गए ज्यादातर लोग अपनी ही कार में जल गए।कोइम्बरा से करीब 50 किमी दूर पेड्रोगौ ग्रांडे नगरपालिका के तहत आने वाले जंगलों में यह आग शनिवार दोपहर लगी। आग पर काबू पाने के लिए करीब 600 फायरफाइटर्स और राहत कार्यो के लिए 160 वाहनों को लगाया गया है।
आग की वजह से बड़ी तादाद में ग्रामीण प्रभावित हुए हैं और उन्होंने पड़ोसी इलाकों में शरण ली है। रिकार्डो ट्रिस्टाओ नामक एक व्यक्ति ने बताया कि ग्रामीणों का कहना है कि वह अपने घरों में नहीं मरना चाहते। प्रधानमंत्री एंटोनियो कोस्टा का कहना है कि सूखी आंधी इस आग की वजह हो सकती है। देश के जंगलों में आग लगने की घटनाओं के मामले में यह अब तक की सबसे बड़ी त्रासदी है। लिस्बन के नजदीक नागरिक सुरक्षा मुख्यालय में प्रधानमंत्री ने आशंका जताई कि मरने वालों की संख्या में अभी और इजाफा हो सकता है।
उन्होंने कहा कि फिलहाल सरकार की प्राथमिकता अभी खतरे में फंसे लोगों को बचाने की है। प्रधानमंत्री ने कहा कि जल्द ही देश में राष्ट्रीय शोक की घोषणा भी की जाएगी। इस बीच, राष्ट्रपति मार्सेलो रेबेलो पीडि़त परिवारों से मिलने लीरिया पहुंचे। उन्होंने बताया कि आग पर काबू पाने में फायर फाइटर्स ने पूरी शिद्दत से काम किया है।यूरोपीय यूनियन ने कहा है कि लिस्बन के अनुरोध पर वह फायर फाइटिंग प्लेन उपलब्ध कराने के लिए तैयार है। यूरोपीय यूनियन के मानवीय मदद और आपदा प्रबंधन आयुक्त क्रिस्टोस स्टाइलिअनिडिस ने बताया कि यूरोपीय यूनियन के नागरिक सुरक्षा तंत्र के जरिये फ्रांस ने तीन फायर फाइटिंग प्लेन भेजने का प्रस्ताव किया है। स्थानीय आपातकालीन सेवाओं की मदद के लिए उन्हें तुरंत ही भेज दिया जाएगा।
हालांकि, स्पेन ने तुरंत ही दो फायर फाइटिंग प्लेन पुर्तगाल भेज दिए हैं। यूरोपीय यूनियन कमीशन के प्रमुख ज्यां क्लाड जंकर ने ट्वीट कर कहा, 'मैं फायर फाइटर्स की बहादुरी की सराहना करता हूं। यूरोपीय यूनियन नागरिक सुरक्षा तंत्र सक्रिय है और पूरी मदद करेगा।'बताते हैं कि रात के समय पुर्तगाल भर के 60 जंगलों में आग लगी है, जिन पर काबू पाने के लिए करीब 1,700 फायर फाइटर्स जुटे हुए हैं। पिछले साल भी पुर्तगाल में आग लगने की कई घटनाओं से करीब एक हजार वर्ग किमी क्षेत्र बर्बाद हो गया था।
 

Related Post